जानिए असर तेल बाजार का सऊदी कंपनी अरामको पर हमले के बाद..क्या होगा अब ?

0
16

शनिवार को सऊदी अरब की सरकारी तेल कंपनी (अरामको) के दो बड़े ठिकानों पर ड्रोन से हमले हुए जिसके बाद इन दोनों जगहों पर अस्थाई तौर पर तेल उत्पादन काफी प्रभावित हुआ सऊदी ऊर्जा मंत्री प्रिंस अब्दुल्ला अजीज बिन सलमान का कहना है कि हमले की वजह से अरामको का कुल उत्पादन पहले के मुकाबले आधा हो गया है |
98 लाख बैरल यह वह संख्या है जो कि सऊदी अरब रोजाना कच्चे तेल का उत्पादन करता है और हमले के बाद रोजाना 57 लाख बैरल कच्चे तेल के उत्पादन पर असर पड़ेगा ऐसा कहना है सऊदी के ऊर्जा मंत्री का और सऊदी अरब पर हमले का असर ना सिर्फ केवल सऊदी अरब पर बल्कि इसका असर पूरी दुनिया पर पड़ सकता है |
सऊदी अरब के अखबार में छपी एक खबर के अनुसार अरामको को का कहना है कि वह जल्द से जल्द इस हमले की चोट से उभर जाएंगे परंतु अगर ऐसा नहीं हुआ तो इंटरनेशनल मार्केट में हर महीने 150 मिलियन बैरल तेल की कमी होने की आशंका है जिसके असर से तेल की कीमत काफी बढ़ सकती है|

कौन है जिम्मेदार इस हमले का ?

हमले के बाद नसिर्फ सऊदी अरब बल्कि पूरी दुनिया के लोग जानना चाहते हैं कि आखिरकार इतने बड़े साजिश का हमला किसने कराया है | वहां दूसरी तरफ अमेरिका ने सीधे तौर बोला है कि यह हमला ईरान ने कराया है |

और साथ ही साथ अमेरिका के विदेश मंत्री ने यह आरोप भी लगाया कि ईरान ने दुनियाभर से तेल सप्लाई रोकने के लिए ड्रोन हमले करवाए है शनिवार को हमले के कुछ समय बाद ही यमन के ईरान समर्थित विद्रोहियों ने ली इस हमले की जिम्मदारि |

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here